जीवन से नत्थी बा कई गो बात

– जयंती पांडेय

हमनी के जीवन में कई गो बात नत्थी बा जेहपर हमनी के आपन कवनो हक नईखे. जइसे आपन पड़ोसी, आपन माई बाप आ आपन नांव. ई बस हो जाला एकर चुनाव ना कइल जा सके. लेकिन आज के दुनिया में पहिलका दू गो बात त आपके अधिकार में नइखे लेकिन नांव पर अब हक बा. भदेस नांव बा त दन दे बदल द. अखबारन में त नांव बदले के एगो कालमे खुल गइल बा. लेकिन एहु में एगो बड़ा आश्चर्यजनक बात बा कि नांव बदले वाला 98 प्रतिशत लोग मर्द ह मेहरारू नांव बदलबे ना करऽ सन. एह में हमनी के नेता लोग भी पीछे नइखे.उनकर नांव मशहूर हो गइल बा त लोग आपन नांव नइखे बदलत आ ई गोस्सा शहरन पर उतारऽता. अब देखऽ बम्बई के नांव मुम्बई हो गइल आ मद्रास चेन्नई हो गइल, बंगलोर पर तो रोज विवाद होला कि बंगलूर ह कि बंगलुरू. बंगाल बंगहो हो गइल. अब देखऽ कि बंगाल के बाहर बंगाली डाक्टर बंगो डाक्टर हो जहिंए सन आ बंगाली रसगुल्ला बंगो रसगुल्ला कहाये लागी आ बंगाल के जादू बंगो जादू हो जाई. अब कोलकाता जा त नया हरानी. ममता दीदी जब रेलमंत्री भइली त इहवां के मय मेटो रेल के स्टेशनन कं नांव बदल दिहली. अब नांव हो गई उभम कुमार आ मास्टर दग् वगैरह-वगैरह..एक इओर लोग दनादन नांव बदलऽता दोसरका इयोर केहू के नांवे नइखे मिलत कि नाती पोता के का नांव दी. अरे दू चार के टेलीफोन डायरेक्टरी मंगवा लेते त बात बनि जाइत. कई बेर ढेर प्रचारित नाँवो के बडहन प्राबलम हो जाला. अभी अण्णा के नांव चलल बा. कई गो मेहरारू अपना बेटन के नांव अण्णा ध दिहले बाड़ी. अब आगे जा के कवनो लड़िकी अण्णा से कइसे बियाह करी ?
काहे कि अण्णा के माने होला भइया. – ज्योति


जयंती पांडेय दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास में एम.ए. हईं आ कोलकाता, पटना, रांची, भुवनेश्वर से प्रकाशित सन्मार्ग अखबार में भोजपुरी व्यंग्य स्तंभ “लस्टम पस्टम” के नियमित लेखिका हईं. एकरा अलावे कई गो दोसरो पत्र-पत्रिकायन में हिंदी भा अंग्रेजी में आलेख प्रकाशित होत रहेला. बिहार के सिवान जिला के खुदरा गांव के बहू जयंती आजुकाल्हु कोलकाता में रहीलें.

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s