बिग बी के हाथे धूम-धाम से भइल "गंगादेवी" के म्यूजिक रिलीज

निर्माता दीपक सावंत आ निर्देशक अभिषेक चड्ढ़ा के फिलिम “गंगा देवी” के म्यूजिक पिछला दिने बिग बी अमिताभ बच्चन के हाथे रिलीज भइल. एह मौका पर पाखी हेगड़े आ गुलशन ग्रोवर मौजूद रहले. भोजपुरी से आपन लगाब बतावत बिग बी कहलन कि अबहीं ले ऊ तीने गो भोजपुरी फिलिम में काम कइले बाड़न बाकिर शुरुए से भोजपुरी के मिठास आ अपनापन के कायल रहल बाड़ें. फिलिम “गंगा देवी” के अहमियत बतावत बच्चन बड़कू कहलन कि एह फिलिम के शूटिंग पूरा कराइए के ऊ अपना इलाज खातिर अस्पताल में भरती होखे गइलन हालांकि शूटिंग का दौरान ऊ भयंकर पेटदर्द से परेशान रहलन.

भोजपुरी फिलिमन में अभिनय के मौका देबे खातिर अपना मेकअप मैन आ एह फिल्म के निर्माता दीपक सावंत के आभार जतावत बिग बी कहलन कि दीपक चालीस बरीस से उनकर चेहरा सँवारत आइल बाड़ें से उहो दीपक के भविष्य सँवारे ला आपन छोटहन योगदान देबे के कोशिश कइले बाड़न.

गंगा देवी १४ सितम्बर से सगरी देश में रिलीज होखे वाली बा. एह फिल्म में बच्चन बड़कू का साथे जया बच्चन, दिनेशलाल यादव ‘निरहुआ’, पाखी हेगड़े, गिरीश शर्मा, अवधेश मिश्रा, विनय बिहारी आ गुलशन ग्रोवर मौजूद बाड़ें. भोजपुरी सिनेमा के मौजूदा परम्परा से अलगा हटके बनावल एह उद्देश्य प्रधान फिलिम में कहानी आ किरदारन के बेहतरीन इस्तेमाल कइल गइल बा.


(स्पेस क्रिएटीव मीडिया के रपट)

Advertisements

मनोज तिवारी के नयका एलबम ‘जय बिहार जय जय बिहार’

भोजपुरी मेगा स्टार आ बिहार के लल्ला मनोज तिवारी एगो नया अलबम में आपन बिहारी तेवर देखावे जात बाड़न. एह एलबम के नाम बा ‘जय बिहार जय जय बिहार’ जवना के जानल मानल संगीत कम्पनी विकॉन म्यूजिक जारी करत बिया. इहे कंपनी सदी के महानायक अमिताभ बच्चन आ मनोज तिवारी के आवाज. में ‘हनुमान चालीसा’ जारी कइले रहल. ‘जय बिहार जय जय बिहार’ के शूटिंग आजुकाल्हु बिहार के वैशाली आ दानापुर छावनी में चलत बा आ निर्देशक बाड़ें समर मुखर्जी. वैशाली ऐतिहासिक रूप से समृद्ध आ कला संस्कृति के दृष्टिकोण से बहुते धनी जगहा ह जहवाँ दुनिया के पहिला लोकतंत्र स्थापित भइल रहे. भगवान बुद्ध के एह धरती पर तीन बेर आगमन भइल रहे. ईसा पूर्व छठी सदी के उत्तर आ मध्य भारत में विकसित 16 महाजनपदन में वैशाली के खास महत्व रहे. नेपाल के तराई से लिहले गंगा के मैदान का बीच पसरल एह भूमि पर वज्जियन आ लिच्छवियन के संघ (अष्टकुल) गणतांत्रिक शासन व्यवस्था के शुरुआत कइले रहे. तब एहिजा के शासक जनता के प्रतिनिधि चुनत रहलें. लिच्छवियन के नगरवधु आम्रपाली के भला के भुला सकेला. एहिजा के अशोक स्तंभो देखे लायक बा.

मनोज तिवारी कहलें कि एह राज्य के ऐतिहासिक धरोहरन के अतना नजदीक से देखे के ई पहिला मौका रहल. एही क्रम में दानापुर छावनी जाए के मौका मिलल. एह छावनी के बीच से करीब तीन किलोमीटर ले रास्ता पटना के आरा से जोड़ेला आ एह रास्ता पर चले वाला हर आदमी सेना के अनुशासन में नजर आवेला. एहिजा शूटिंग के अनुमति लेबे खातिर जब मनोज तिवारी छावनी प्रमुख से मिललन त शूटिंग के अनुमति दे दिहलन आ जवाननो के पूरा वर्दी में उपलब्ध करवलें. फेर हमनी का मिल के राग छेड़ली जा कि ‘जय बिहार, जय जय बिहार’.


(शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा के रपट)

अमिताभ आ सलमानो झूमेलें शब्बीर के गीतन पर

का रउरा जानत बानी कि सलमान खान से लिहले संजय दत्त ले केकरा गीतन पर ठुमका लगावेले आ केकरा गीतन पर दुनियो झूमेले? ई गीतकार हउवें उत्तर प्रदेश के नौजवान गीतकार शब्बीर अहमद जिनकर लिखल गीत बालीवुड के ‘बॉडी गार्ड’, ‘बोल बच्चन’, ‘पार्टनर’, ‘लक’, ‘वांटेड’, ‘किस्मत कनेक्शन’, ‘गॉड तुसी ग्रेट हो’ आ ‘डिपार्टमेंट’ जइसन फिलिमन में हिट भइल बाड़ी सँ. आवे वाली फिलिमन में ‘सन ऑफ सरदार’, ‘खिलाड़ी 786’, ‘मेरा नाम बॉस’, ‘ओ माई गॉड’, ‘शेर’, ‘जिला गाजियाबाद’, ‘शॉट कट रोमियो’, ‘किस्मत लव पैसा दिल्ली’, ‘रोमियो जूलिएट’ वगैरह में शब्बीर के गीत शामिल बाड़ी सँ.

सलमान खान अभिनीत ‘बॉडीगार्ड’ के गाना ‘तेरी मेरी मेरी तेरी प्रेम कहानी है मुश्किल…’ गीत केकरा के आपन दीवाना ना बना लिहलसि एही फिलिम के टाइटिल सांग ‘आओजी आओजी… देखो आ गया है बॉडीगार्ड….’ शब्बीरे के लिखल हवे. शब्बीर अबले नाहियो त 75 गो ले फिलिम में गीत रच चुकल बाड़ें आ उनुका खाते बहुते हिट फिलिम दर्ज बाड़ी सँ.

एह गीतन के अइसहीं शोहरत ना मिल जाव. एकरा पाछे शब्बीर के कड़ा मेहनतो शामिल बा. शब्बीर बॉलीवुड में अपना कामयाबी के अपना मरहूम महतारी मैमुलनिशा के दुआ मानेलें आ कहेलें कि अगर माई के दुआ साथ रहे त केहू के फर्श से अर्श पर चहुंपे में देर ना लागी. बातचीत में शब्बीर बतवलें कि अमिताभ बच्चन आ अक्षय कुमार के आवेवाली फिलिम ‘खिलाड़ी 786’ ओ में उनकर लिखल गीत बाड़ी सँ जवना के संगीत हिमेश रेशमिया रचले बाड़ें. सलमान खान के तीन गो फिलिमो में, ‘किक’, ‘एक था टाईगर’, आ ‘अल्लारक्खा’ में, उनकर गीत शामिल बाड़ी सँ. अपना सफलता में शब्बीर अपना पिता समीउल्लाह आ भाई शकीलो अहमद के हाथ बतवलें.


(स्रोत – शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा के रपट)

‘नागिन’ के सांग रिकार्डिंग में कल्पना आ इंदू सोनाली के दंगल

जइसे बालीवुड में सलमान खान आ शाहरुख खान में तनातनी चलल करेला कुछ ओइसने हालत बन गइल जब दू गो मशहूर भोजपुरी गायिका कल्पना आ इंदू सोनाली रेकार्डिंग स्टूडियो में एक दोसरा पर दोष लगावे लगली. ओ दोषो अइसन कि निर्माता-निर्देशक के गोड़ हाथ फूल गइल.

ओह दिन निर्माता निर्देशक राजकुमार आर. पांडे के ‘नागिन’ के गाना के रिकार्डिंग कइल जात रहुवे. एगो गाना में कल्पना आ इंदू सोनाली के एक संगे गावे के रहुवे. गाना अइसन कि लागे कि बिरहा के दंगल चलत बा. आ ओही गाना के ले के कल्पना आ इंदू सोनाली में दोषादोषी के दौर चल निकलल, रिकार्डिंग का मौका पर राजकुमार पांडे फिल्म के नायक खेसारी लाल यादव, रानी चटर्जी, आ मोनालिसा के नेवतले रहलें. बतावल जात बा कि संगीतकार राजेश रजनीश कल्पना आ इंदू सोनाली के आवाज़ में गाना रिकार्ड करावल शुरु कइलें. कुछ देर ले माहौल ठीक बुझाइल काहे कि दुनु जनी, कल्पना आ इंदू सोनाली गाना के मूड में रहली आ वइसने गवली जइसन कि निर्देशक राजकुमार पांडे चाहत रहलें. दुनु गायिका अतना बढ़िया गावत रहली कि खुद राजकुमार पांडे के लागल कि कहीं ई व्यवसायिक प्रतिद्वंदिता त ना ह आ ई सोचिए के उनकर हालत खराब हो गइल. राजकुमार पांडे रिकार्डिंग रोके के कहलें त दुनु जनी हँसे लगली. कहल लोग कि अतना बढ़िया दंगल चलत रहुवे अनेरे रोक दिहनी. कल्पना आ इंदू सोनाली के सूझबूझ देख के राजकुमार पांडे दंग रह गइलें आ फेर पूरा मूड से दुबारा ‘नागिन’ के ई जंगी मुकाबला रिकार्ड करावल गइल.

साईदीप फिल्म्स प्रस्तुत ‘नागिन’ के लेखक मनोज कुशवाहा, गीतकार प्यारे लाल यादव, विपिन बहार, आ महेश परदेशी, मारधाड़ निर्देशक हीरा यादव, नृत्य निर्देशक पप्पू खन्ना आ एडीटर हउवें गुर्जन सिंह.

कलाकारन में खेसारीलाल यादव, रानी चटर्जी, मोनालिसा, नवोदित ज्योतित, मनोज टाईगर, सीमा सिंह, बृजेश त्रिपाठी, प्रकाश जैस, के.के. गोसवामी, मंटूलाल, सी.पी. भट्ट, अनूप अरोड़ा, पुष्पा वर्मा, वंदिनी मिश्रा अउर अवधेश मिश्रा के खास नाम बा.


(स्रोत – शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा के रपट)

भोजपुरी सिनेमा के चर्चित संगीतकार अजय-सतीश

भोजपुरी, आ हिंदिओ, सिनेमा में अपना संगीत से सुने वाला के मोह लेबे वाला संगीतकार अजय-सतीश के जोड़ी एह साल रिलीज भइल अपना हिंदी फिल्म “रक्तबीज” में अपना संगीत से लोग के झूमा दिहलें. एह लोग का म्यूजिक पर राखी सावंतो नचली. “ऱाक ऑन मीरा”, सुर संग्राम के दुनु सीजन आ नहले पे दहला के सफलता का बाद फेर हाल में ई जोड़ी “सुरों का महासंग्राम”ओ में संगीत दिहलसि.

हाल ही में अजय सतीश के संगीतकार जोड़ी दू गो हिंदी फिलिमन में संगीत दिहले बावे. अवधी फिल्म “उपकार” आ भोजपुरी फिल्म “लक्ष्मणरेखा” के संगीतो तइयार हो गइल बा.

महुआ चैनल के धारावाहिक “इ रिश्ता कवन काम के” में अपना संगीत से सजावे वाला अजय-सतीश के जोड़ी वाईस ऑफ़ इंडिया फेम अन्वेषा दत्ता, सुर संग्राम फेम मोंहन राठौर, आ सुरों का महासंग्राम फेम कल्पना सिंह से महुआ चैनल के धारावाहिक “इ रिश्ता कवन काम के” में गीत गववले बिया.


(स्रोत – भोजवुडन्यूज के रपट)

‘नजर लागल राजा तोहरे बंगले पे’ के रिकॉर्डिंग पूरा हो गइल

दयाल फिल्म्स् इंटरटेनमेंट प्रस्तुति आ एक्सलेंट फिल्मस् प्रा. लि. के बैनर तले बनत फिल्म ‘नजर लागल राजा तोहरे बंगले पे’ के सगरी गाना के रिकार्डिंग पूरा हो गइल बा. संगीत-निर्देशक राज सेन के निर्देशन में गायिका कल्पना, दीपा नारायण, इंदु सोनाली, आ गायक आलोक कुमार अउर साहिद माल्या के आवाज में एह गीतन के रिकार्डिंग भइल बा. गीतकार आ लेखक भीरूग बृन्दा हउवें.

निर्देशक शमीम सैयद हउवें आ कलाकारन में एक्शन स्टार मनोज पाण्डे, अंजना सिंह, अंजनी सिंह, प्रिति सिंघानिया, आलोक यादव, जशवंत कुमार जयस्वाल, रविकांत राय, सुबोध सेठ, सुनीता यादव, विजया सिंह अउर मोहम्मद खत्री के नाम खास बा.


(प्रशांत निशांत के रपट)

बजरंग फिल्म के म्यूजिक से हिट भइलें ओम झा

भोजपुरी के गीत संगीत के मिठास सगरी दुनिया पसंद करेले. कहीं त भोजपुरी अपना गीते संगीत से जानल जाले. भोजपुरी फिलिम बजरंग हिट भइल त ओकरा संगीत संगे संगीतकार ओमो झा मशहूर हो गइलें. आजु हर ओर ओम झा के संगीत के चरचा होखत बा. पिछला दिने ओम झा से बात करे के मौका मिलल त ओह बातचीत के सार संक्षेप एहिजा पेश बा.

ओम झा सिनेमा में केहू के आपन गुरू ना मानस. कहलें कि “अकेला चला था सफ़र में………साथी मिलते चले गए “. मुंबई अइलन त सबसे पहिले संगीत सिखलन. पहिला एलबम कइलन त ओहमें कुमार सानू, शान, जसपिंदर नरूला, अनुराधा पौडवाल वगैरह गायक-गायिका रहलें बाकिर ऊ आजु ले रिलीज नाहो पावल. ओकरा बाद कल्पना अउर बाबुल सुप्रियो के हिंदी एलबम कइलन. भोजपुरी सिनेमा में डेग धराइल फिलिम “सीता” के संगीत से. एह फिलिम में कृष्णाअभिषेक आ रानी चटर्जी मुख्य कलाकार बाड़ें आ एह फिलिम के गाना “चना जोर गरम” अधिका प्रचलित भइल.
सिनेमा का अलावे ओम झा अनेके धार्मिको एलबमन में संगीत दिहले बाड़न जवना में “भगवन बनल बा नचनिया”,”जय हो बाला जी”,”मेरे नैनों में बस गए श्याम” बढ़िया साबित भइली सँ. एगो दोसर एलबम “बतवा कैसे रतिया कटी” वीनस रिलीज कइले रहे. सिनेमा भोजपुरी में “घर का चिराग”,”गौरी शंकर”,”झुमकी”,”हम है धरम योद्धा”, “बजरंग”, “लाल दुप्पटे वाली” अउर “क्षत्रिय” के संगीत दिहले बाड़न ओम झा.
बजरग फिलिम के संगीत खातिर ओक झा के बेस्ट म्यूजिक डाइरेक्टर के अवार्ड मिलल. बतवलन कि बजरग के संगीत ला बहुते संगीतकारन से बातचीत होत रहे बाकिर जब ओम झा फिलिम के टाइटल सांग “बजरग वीर जब बन जाये ” सुनवलन त उनुका के तुरते फाइनल कर लिहल गइल. एह खातिर ओक झा पवन सिंह, निर्माता जे पी सिंह, निर्देशक नंद आ पिंटू के बहुते आभार जतवलें. इहो कहलें कि बजरंग फिलिम में बुल्ली पाण्डेय के भूमिका करे वाला रमेश दुबे के सलाह बहुते काम आइल. अवार्ड दिहला खातिर ओम झा रिलायंस बिग टीवी आ ईशा टीवी के धन्यवाद दिहलें.


(भोजवुड न्यूज के रपट)