राजकुमार पांडे ‘नागिन’ ले के अइहें

भोजपुरी के अव्वल निर्माता निर्देशक राजकुमार पांडे अब एगो जानदार शानदार भोजपुरी फिलिम ले आवत बाड़ें जवना के नाम बा ‘नागिन’. इंडस्ट्री के लोग मानत बा कि राजकुमार पांडे के हर फिलिम के तरह इहो सुपर डुपर हिट फिलिम होखी.

नागिन में खेसारीलाल यादव, रानी चटर्जी आ मोनालिसा का संगे नवोदित ज्योतित, मनोज टाईगर, सीमा सिंह, बृजेश त्रिपाठी, प्रकाश जैस, के.के. गोस्वामी, मंटूलाल, सी.पी. भट्ट, अनूप अरोड़ा, पुष्पा वर्मा, वंदिनी मिश्रा अउर अवधेश मिश्रा बाड़ें.

साईदीप फिल्म्स प्रस्तुत ‘नागिन’ के लेखक मनोज कुशवाहा, गीतकार प्यारे लाल यादव, विपिन बहार आ महेश परदेशी, मारधाड़ निर्देशक हीरा यादव, आ संपादक गुर्जन सिंह हउवें.


(ब्रेकिंग मैक्स मीडिया के रपट)

हरीश जायसवाल आ मुकेश पाण्डेय गिरफ्तार

देर से पता चलल एगो खबर, बढ़ियका त प्रचारक लोग तुरते बता भेजेला, से मालूम भइल कि भोजपुरी फिल्म निर्माता हरीश जायसवाल आ लेखक मुकेश पाण्डेय एगो भोजपुरी अभिनेत्री से छिनरपन आ भँड़ुअई वाला करतूत कइला का चलते गिरफ्तार कर लिहल गइल बा. एह दुनु जने पर आरोप बा कि ई लोग ओह अभिनेत्री के अपना फिलिम में रोल देबे के लालच दिहल लोग आ बाद में ओकरा से मनबढ़ चाहत राखे लागल लोग कि ऊ एह लोग के तृप्त करो. अभिनेत्री जब इंकार कर दिहलस त बतावल जात बा कि ई दुनु जने सोशल नेटवर्किंग साइट पर ओह अभिनेत्री के फोटो पर फूहड़ तंज कसे लागल. बाद में जब एह लोग के ऊ अभिनेत्री ब्लॉक कर दिहली त ई लोग मोबाइल पर फोन कर कर के आपन फूहड़पन बतियावे लागल. आजिज आ के ऊ अभिनेत्री एह लोग के फोन टेप कर लिहली आ पुलिस थाना में रिपोर्ट दर्ज करा दिहली. एकरा बाद एह लोग के अगस्त का पहिला हफ्ता में गिरफ्तार कर लिहल गइल.

बिग बी के हाथे धूम-धाम से भइल "गंगादेवी" के म्यूजिक रिलीज

निर्माता दीपक सावंत आ निर्देशक अभिषेक चड्ढ़ा के फिलिम “गंगा देवी” के म्यूजिक पिछला दिने बिग बी अमिताभ बच्चन के हाथे रिलीज भइल. एह मौका पर पाखी हेगड़े आ गुलशन ग्रोवर मौजूद रहले. भोजपुरी से आपन लगाब बतावत बिग बी कहलन कि अबहीं ले ऊ तीने गो भोजपुरी फिलिम में काम कइले बाड़न बाकिर शुरुए से भोजपुरी के मिठास आ अपनापन के कायल रहल बाड़ें. फिलिम “गंगा देवी” के अहमियत बतावत बच्चन बड़कू कहलन कि एह फिलिम के शूटिंग पूरा कराइए के ऊ अपना इलाज खातिर अस्पताल में भरती होखे गइलन हालांकि शूटिंग का दौरान ऊ भयंकर पेटदर्द से परेशान रहलन.

भोजपुरी फिलिमन में अभिनय के मौका देबे खातिर अपना मेकअप मैन आ एह फिल्म के निर्माता दीपक सावंत के आभार जतावत बिग बी कहलन कि दीपक चालीस बरीस से उनकर चेहरा सँवारत आइल बाड़ें से उहो दीपक के भविष्य सँवारे ला आपन छोटहन योगदान देबे के कोशिश कइले बाड़न.

गंगा देवी १४ सितम्बर से सगरी देश में रिलीज होखे वाली बा. एह फिल्म में बच्चन बड़कू का साथे जया बच्चन, दिनेशलाल यादव ‘निरहुआ’, पाखी हेगड़े, गिरीश शर्मा, अवधेश मिश्रा, विनय बिहारी आ गुलशन ग्रोवर मौजूद बाड़ें. भोजपुरी सिनेमा के मौजूदा परम्परा से अलगा हटके बनावल एह उद्देश्य प्रधान फिलिम में कहानी आ किरदारन के बेहतरीन इस्तेमाल कइल गइल बा.


(स्पेस क्रिएटीव मीडिया के रपट)

रमाकांत प्रसाद अउर विराज भट्ट के नया रिकार्ड

सिनेमा भोजपुरी में निर्माता निर्देशक रमाकांत प्रसाद आ अभिनेता विराज भट्ट के टीम एगो नया रिकार्ड बनवले बिया. ई टीम अबहीं ले नौ गो फिलिम कइले बा आ नौ के नवो सुपर डुपर हिट भइल बाड़ी सँ. ई पहिलका अइसन टीम बा जवन अतना फिलिम एक संगे कइले बा.

एह नवो फिलिमन के नाम ह ‘लागल रहा ए राजा जी’, ‘दिवाना’, ‘दाग़’, ‘दिलजले’, ‘बारूद’, ‘जान तेरे नाम’, ‘जानवर’ आ ‘हिम्मतवाला’.


(शशिकांत सिंह रंजन सिन्हा के रपट)

भोजपुरी सिनेमा में एगो नया आगाज़ हवे "देख के"

आजु जीवन के महाभारत ओह मोड़ पर बा, जहाँ सभे कृष्ण बने के तइयार बा, आ तलाश बाकी बा त बस एगो अर्जुन के जे समाज के रक्षा ला अपना रिश्तेदारो पर प्रहार करे से ना हिचके. सिनेमा भोजपुरीओ में ई बात ओतने सही बा. हर शख्स आँख में ढ़ेरे चिंगारी भरले एगो रौशनी जोहत बा. बाकिर एह चिंगारी के रौशनी में बदले त के ? जिंदगी के एही स्याह-सफ़ेद सच्चाई के पेश करे जात बिया निर्देशक निखिल राज के फिल्म “देख के”. फिलहारमोनिक एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनत एह फिल्म से छोटका परदा के स्टार श्रीवर्धन त्रिवेदी आ खुद निखिल राज बड़का परदा पर दस्तक देबे जात बाड़न.

कथ्य अउर शिल्प के लिहाज़ से “देख के” भोजपुरी सिनेमा में एगो नया युग के आगाज करी. खटिया-पटिया अउर लहंगा-चुनरी के दलदल में धंसल भोजपुरी सिनेमा के वास्तविक सरोकारन से जोड़े के जवन कोशिश “देख के” में भइल बा ओहसे भोजपुरी सिनेमा के एगो नया माने आ पहचान मिले के उमेद बा. श्रीवर्धन त्रिवेदी आ निखिल राज के अलावे एह फिल्म में जाकिर हुसैन, वंदना वशिष्ठ, जीतू शास्त्री, निशाश्री आ महेंद्र मेवाती जइसन मंझल कलाकारन के साथ अवधेश मिश्रा, श्री कंकानी आ प्रकाश जैश जइसन खांटी भोजपुरिया खिलाड़ीओ बाड़ें.

म्यूजिको लेके एह फिल्म में एगो नया प्रयोग भइल बा क्लासिकल आ लोक संगीत के आधुनिक म्यूजिक शैली के मिठास में सुनावे के. बानी चक्रवर्ती आ पॉल जैकब जइसम संगीतकारन के धुन पर एह फिल्म के गाना कैलाश खेर, साउथ अफ्रीकन सिंगर सइयों बम्बा कमारा, श्रीलंकन सिंगर योगेश्वरण मनिक्कम, अउर साउथ इंडियन सिंगर बौंबे जयश्री गवले बाड़न.

निर्देशक निखिल राज के भोजपुरिया जोश आ जूनून के कुछ एह रूप में देखे के चाहीं …

दीया खामोश है मगर किसी का दिल तो जलता है

चले आओ जहां तक रौशनी मालूम होती है …


(स्पेस क्रिएटिव मीडिया के रपट)

‘गोला बारूद’ में राजकुमार पांडे के नाम के ग़लत इस्तेमाल

सिनेमा भोजपुरी के नम्बर वन निर्देशक राजकुमार पांडे अपना प्रशंसकन के गोहार लगवले बाड़न कि फिलिम ‘गोला बारूद’ के उनकर निर्देशित फिलिम मत समुझे लोग. ऊ त बस एकर एगो गाना निर्देशित कइले बाड़न. राजकुमार पांडे के कहना बा कि ‘गोला बारूद’ दरअसल साल 2008 में ‘विधाता’ के नाम से देखावल जा चुकल बा आ अब ओही फिलिम के नाम बदल के देखावल जात बा. ‘विधाता’ के निर्देशन हैरी फर्नांडीज कइले रहले.

राजकुमार पांडे बतवलें कि एह फिल्म ‘गोला बारूद’ (पुरनका नाम ‘विधाता’) के निर्माता ग़लत तरीका से ‘गोला बारूद’ के पोस्टर आ कई दोसरा जगहा पर उनकर नाम देत बाड़ें जबकि ऊ सिरिफ एगो गाना निर्देशित कइले बाड़ें आ उहो दोसरा फिलिम खातिर जवना के उठा के निर्माता एह फिलिम में डाल दिहले बाड़न. राजकुमार पाण्डेय नइखन चाहत कि उनुका फिलिमन के चाहेवाला दर्शक गलतफहमी में एह फिलिम के देखे जाव.

जाने लायक बात बा कि भोजपुरी सुपर स्टार रवि किशन आ दिनेशलाल यादव ‘निरहुओ’ अपना प्रशंसकन से अपील कइले बाड़ें कि ‘गोला बारूद’ के ओह लोग के नया फिलिम मत समुझल जाव. ई त साल 2008 में देखावल जा चुकल फिलिम ‘विधाता’ ह जवना के नाम बदल दिहल गइल बा.


(शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा के रपट)

एक बिहारी आ ज्वालामंडी से जगदीश शर्मा के चल निकलल

जगदीश शर्मा अइसन निर्देशक हउवन जे बालीवुड के रंगीन दुनिया छोड़ भोजपुरी इंडस्ट्री के आगे बढ़ावे के जिम्मा ले लिहलन. जगदीश शर्मा के निर्देशन में बनल आ हालही में रिलीज भइल “निरहुआ“ अभिनीत एक बिहारी सौ पे भारी के बिहार के दर्शक बालीवुड स्टार सलमान खान के फिल्म एक था टाइगर से टक्कर में ज्यादा बाव दिहलें आ फिलिम पहिलके हफ्ता में चालीस लाख से बेसी के नेट कलेक्शन कर लिहलसि.

एही तरह रविकिशन अभिनीत ज्वालामंडी के सफलता एह सफलता के कई गुना बढ़ा दिहलसिल एह फिलिम में रविकिशन आ अवधेश मिश्रा के बीच को बड़ छोट कहत अपराधू वाला हाल बा. दुनु के अदाकारी फिलिम के लाजवाब बना दिहले बावे. बिहारी दर्शक बारी बारी दुनु फिलिम के आनंद लेत बाड़ें आ वितरकन के लागत बा कि सिनेमा भोजपुरी के गाड़ी फेर आपन रफ्तार धर लिहले बिया.

दुनु फिलिमन के सफलता से निर्देशक जगदीश शर्मा के मिले वाला बधाईयन के ताँता लागल बा.


(संजय भूषण पटियाला के रपट)

विनोद त्रिवेदी आ श्रीधर शेट्टी के ‘नाच दुलारी नाच’

बालाजी सोलिटर फिल्म्स प्रा. लि. के बैनर तले बनल भोजपुरी फिल्म ‘नाच दुलारी नाच’ क बारे में साफ कहल जाता कि एह फिल्म के पूरा परिवार एक संगे बइठ के देख सकेला.

‘नाच दुलारी नाच’ के निर्माता विनोद त्रिवेदी आ निर्देशक श्रीधर शेट्टी हउवें. एक से बढ़के एक गीतन के संगीत दिहले बाड़न संगीतकार राकेश त्रिवेदी, पटकथा लेखक केशव राठौड़, संवाद लेखक मोहम्मद रफी खान, कैमरामैन प्रिंस, गीतकार राकेश निराला, नृत्य निर्देशक केदार सुब्बा, आ एक्शन डायरेक्टर हउवें हेमल सी.

फिल्म के मुख्य कलाकारन में श्री कनकनी, यश त्रिवेदी, जफ़र खान, उदय श्रीवास्तव, रोहित सिंह मटरू, चंदन पुरुषोत्तम, आ डांसिंग क्वीन सीमा सिंह के नाम बा. फिल्म के शूटिंग पूरा हो गइल बा आ अब पोस्ट प्रोडक्शन के काम लागल बा.


(स्रोत – शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा के रपट)

निर्माता रितेश ठाकुर ले अइहें "दरदिया ए बालम"

“तू ही मोर बलमा “,”कलुआ भइल सयान ” के बाद रितेश ठाकुर अब ले के आवत बाड़ें भोजपुरी फिलिम “दरदिया ए बालम” जवना के निर्माण आकाश फिल्म्स इंटरटेनमेंट के बैनर तले कइल जात बा.

एह फिलिम में अरविन्द अकेला कल्लू, सुप्रेरणा सिंह, आ अवधेश मिश्रा मुख्य कलाकार बाड़ें. संगीत छोटे बाबा दिहले बाड़न.

एक्शन,रोमांस आ कॉमेडी भरल एह फिलिम के शूटिंग जल्दिए शुरू होखी.


(भोजवुड न्यूज के रपट)

१४ सितम्बर के सगरी हिन्दुस्तान में देखावल जाई ‘गंगादेवी‘

निर्माता दीपक सावंत आ निर्देशक अभिषेक चड्ढ़ा के फिलिम ‘गंगा देवी‘ १४ सितम्बर से सगरी हिन्दुस्तान में एके साथ रिलीज कइल जाई. दक्षणा फिल्म्स के बैनर तले बनल एह फिलिम ला दर्शक ढेरे दिन से तिकवत बाड़ें. एहमें बिग बी आ जया बच्चन के अलावा दिनेशलाल यादव ‘निरहुआ’, पाखी हेगड़े, गिरीश शर्मा, अवधेश मिश्रा अउर विनय बिहारी मौजूद बाड़ें. साथही एही फिलिम से गुलशन ग्रोवरो पहिला बेर भोजपुरी दर्शकन के सोझा होखीहें.

फिल्म निर्माण बेशक एगो कला ह, लेकिन निर्माता दीपक सावंत हमेशा से सामाजिक सरोकारन से प्रेरणा ले के फिलिम बनावत आइल बाड़ें. इहे वजह बा कि मराठी भाषी होखला का बावजूद ऊ समाज के ओह तबका के अपना फिलिम के केंद्र में रखलन जहँवा सामाजिक बदलाव के सबले अधिका ज़रूरत बुझाला.

‘गंगा’ आ ‘गंगोत्री’ बना चुकल दीपक सावंत के अगिला भोजपुरी फिल्म हवे ‘गंगादेवी’. एह फिलिम का कहानी में महिला आरक्षण के मुद्दा केन्द्र में बा. आरक्षण का बावजूद औरतन के हैसियत जस के तस बा आ आजुवो उनुका आपन वाजिब हक हासिल नइखे. निर्माता दीपक सावंत आ निर्देशक अभिषेक चड्ढ़ा ‘गंगादेवी’ के जरिए महिला आरक्षण राजनीति पर कड़ा चोट मरले बाड़ेंॆ सिनेमा भोजपुरी के मौजूदा चलन से अलगा हटके बनल एह उद्देश्य प्रधान फिल्म में कहानी आ किरदारन के बेहतरीन तरीका से पेश कइल गइल बा.


(संजयभूषण पटियाला के रपट)