‘गोला बारूद’ में राजकुमार पांडे के नाम के ग़लत इस्तेमाल

सिनेमा भोजपुरी के नम्बर वन निर्देशक राजकुमार पांडे अपना प्रशंसकन के गोहार लगवले बाड़न कि फिलिम ‘गोला बारूद’ के उनकर निर्देशित फिलिम मत समुझे लोग. ऊ त बस एकर एगो गाना निर्देशित कइले बाड़न. राजकुमार पांडे के कहना बा कि ‘गोला बारूद’ दरअसल साल 2008 में ‘विधाता’ के नाम से देखावल जा चुकल बा आ अब ओही फिलिम के नाम बदल के देखावल जात बा. ‘विधाता’ के निर्देशन हैरी फर्नांडीज कइले रहले.

राजकुमार पांडे बतवलें कि एह फिल्म ‘गोला बारूद’ (पुरनका नाम ‘विधाता’) के निर्माता ग़लत तरीका से ‘गोला बारूद’ के पोस्टर आ कई दोसरा जगहा पर उनकर नाम देत बाड़ें जबकि ऊ सिरिफ एगो गाना निर्देशित कइले बाड़ें आ उहो दोसरा फिलिम खातिर जवना के उठा के निर्माता एह फिलिम में डाल दिहले बाड़न. राजकुमार पाण्डेय नइखन चाहत कि उनुका फिलिमन के चाहेवाला दर्शक गलतफहमी में एह फिलिम के देखे जाव.

जाने लायक बात बा कि भोजपुरी सुपर स्टार रवि किशन आ दिनेशलाल यादव ‘निरहुओ’ अपना प्रशंसकन से अपील कइले बाड़ें कि ‘गोला बारूद’ के ओह लोग के नया फिलिम मत समुझल जाव. ई त साल 2008 में देखावल जा चुकल फिलिम ‘विधाता’ ह जवना के नाम बदल दिहल गइल बा.


(शशिकांत सिंह, रंजन सिन्हा के रपट)

Advertisements

दस का दम

दस का दम खाली सलमाने खान का लगे नइखे बलुक भोजपुरी सिनेमो में एह घरी नंबर वन खलनायक संजय पांडे आ नंबर वन निर्देशक राजकुमार पांडे के ‘दस का दम’ देखे के मिलत बा. ना समुझनी त चलीं बता देता बानी.

दरअसल संजय पांडे आ राजकुमार पांडे अबले कुल दस फिलिम में एक साथ काम कइले बा लोग. एहमें से बेसी फिलिम सफलता के नया रिकार्ड बना दिहली स. संजय पांडे आ राजकुमार पांडे के जोड़ी के पहिला फिलिम रहे ‘कहिया डोली लेके अईबऽ’. साल 2003 में रिलीज एह भोजपुरी फिल्म से राजकुमार पांडे बतौर निर्देशक अपना पारी के शुरुआत कइले त संजयो पांडे के कैरियर के शुरूआत एही फिलिम से भइल.

एकरा बाद राजकुमार पांडे जइसन दिग्गज निर्देशक संजय पांडे के लेके ‘दिवाना’, ‘देवरा बड़ा सतावेला’, ‘सात सहेलियां’, ‘लहरिया लूटऽ ए राजा जी’, ‘सईयां के साथ मड़ईया में’, ‘मैं नागिन तू नगीना’, ‘दुश्मनी’ आ पर साल के सबले बड़ हिट फिल्म ‘ट्रक ड्राईवर’ दर्शकन के दिहले, एह नौ फिलिमन का बाद अब एह जोड़ी के दसवीं फिलिम के नाम हवे ‘सौगंध गंगा मईया के’. एह फिल्म के शूटिंग आजुकाल्हु वाराणसी में चलत बा. एज दस का दम पर खुद राजकुमार पांडे संजय पांडे के तारीफ करत कहलन कि ऊ कमाल के इंसान हउवे आ उनुका साथे काम कइल बहुते नीक लागेला. संजयो पांडे राजकुमार के निर्देशन के तारीफ करेले कि उनुका निर्देशन में कलाकारन के पूरा प्रतिभा परदा पर आ जाला.

त इहे ह भोजपुरिया ‘दस का दम’.


(शशिकांत सिंह के भेजल रपट)