‘राजा के रानी से प्यार हो गईल’ 17 फरवरी के रिलीज होई

टॉकी फ्रेमस् प्रा॰ लि॰ के प्रस्तुति, निर्माता स्वपनदीप आ निर्देशक स्वपनदीप अउर शैलेश पाण्डेय के फिल्म ‘राजा के रानी से प्यार हो गईल’ 17 फरवरी के बिहार आ झारखंड में रिलीज होखे वाला बा. एह फिल्म के कहानी में एगो अमर प्रेम कहानी देखावल गइल बा. कहानी प्रवेश लाल आ शुभी शर्मा के इर्द-गिर्द घूमतिया. फिल्म का जरिये देखावल गइल बा कि एहिजा के जोड़ी भगवाने किहाँ से बनि के आवेला आ साँच प्यार के हमेशा मिलन हो के रहेला.

एह फिल्म में जूनियर निरहुआ के नाम से मशहूर प्रवेश लाल यादव के दू गो नायिका बाड़ी, शुभी शर्मा अउर मेघा घोष, आ प्रवेश लाल दुनु का साथे थिरकत नजर अइहन. फिल्म में जूनियर निरहुआ पर एक से बढ़के एक एक्शन स्टंट्स फिल्मावल गइल बा. फिल्म के सबले मजबूत पहलू एकर गीत संगीत बा. दिल के छूवे वाला गीत लिखले बाड़े प्यारेलाल यादव, श्याम देहाती आ विपिन बहार. एह गीतन के संगीत से सजावे के काम संगीटकार राजेश रजनीश कइले बाड़े. संजय पाण्डेय के भूमिको बहुते खास बा एह फिल्म में आ आईटम क्वीन सीमा सिंह पर फिल्मावल दिलकश आईटम गीत के त पूछीं मत.

बिहार में एह फिल्म के वितरित करी रेणू विजय फिल्म्स.


(प्रशांत निशांत के भेजल रपट)

रोमांटिक लव स्टोरी ‘‘राजा के रानी से प्यार हो गईल’’

टॉकी फ्रेमस के बैनर तले बनत रोमांटिक लव स्टोरी ‘‘राजा के रानी से प्यार हो गईल’’ के पोस्ट प्रोडक्शन के काम अब आखिरी दौर में बा. निर्माता स्वप्नदीप के एह फिल्म मे जूनियर निरहुआ प्रवेशलाल यादव, शुभी शर्मा, मेघा घोष, राज गौतम, मेहनाज, राजीव पाण्डेय, सोनिया मिश्रा, माधुरी मिश्रा, शंभु प्रसाद, चंद्रीका सोनी, गोविंद पाठक, जीतू यादव, प्रमोद गोस्वामी, अविनाश ठाकुर, आशुतोष तिवारी, हंसराज, भानू सिंह, शक्ति सागर, यशवंत सिंह आ संजय पाण्डेय के प्रमुख भूमिका बा. फिल्म के निर्देशक शैलेश आ स्वप्नदीप के कहना बा कि एह फिल्म में देखावल गइल बा कि सच्चा प्यार हमेशा जीतेला आ भगवानो सच्चा प्यार के साथ देले.

फिल्म के एक्शन मास्टर दिलीप यादव, डांस के. के. संजय, कला लाल जी, संपादक जितेन्द्र सिंह जीतू, छायांकन प्रमोद पाण्डेय, कथा-पटकथा अनिमेश बी. पर्वत, हरि प्रसाद सिंह, संवाद लेखक मुकेश त्रिवेदी हउवे. फिल्म के गीतकार प्यारेलाल यादव, श्याम देहाती आ विपिन बहार हवें. मधुरधुन बनवले बाड़े संगीतकार राजेश-रजनीश. जवना चलते गाना सब के बहुत तारीफ हो रहल बा.


(स्रोत : प्रशांत निशांत)