सराहल जाता रानी चटर्जी के

भोजपुरिया दर्शकन के दिल के धड़कन आ सिनेमा भोजपुरी के रानी रानी चटर्जी के सगरी सराहल जात बा. ई सराहना होखत बा हालिया रिलीज फिल्म ‘‘ज्वालामण्डी’’ रानी के शानदार अदाकारी ला. फिल्म में रानी एगो अइसन लड़िकी के किरदार कइले बाड़ी जेकरा के ओकर मामा एगो कोठा पर बेच देत बा, फेर ओकर प्रेमी कवना तरह ओकरा के कोठा से बचावत बा इहे एह फिल्म में देखावल गइल बा.

रानी चटर्जी के नायक बाड़ें बड़का स्टार रविकिशन. रानी चटर्जी एह फिल्म के सफलता से बहुते खुश बाड़ी आ एकर श्रेय निर्देशक जगदीश शर्मा आ निर्माता राजू सिंह के देत बाड़ी.


(प्रशांत निशांत के रपट)

Advertisements

भोजपुरी के स्टार नायिका रानी चटर्जी

सिनेमा भोजपुरी में स्टार नायकन के नाम के कतार लाग जाई बाकिर स्टार नायिका खातिर जेहन में बस एके नाम आई रानी चटर्जी के. रानी चटर्जी भोजपुरी के अकेला नायिका हई जे अपना दम पर दर्शकन के सिनेमाघर ले खींच ले आवेली आ उनुकर हर फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित होले.

सिनेमा भोजपुरी के तिसरका दौर के अकेला गोल्डन जुबली फिल्म ‘ससुरा बड़ा पइसा वाला’ से भोजपुरी परदा पर एन्ट्री मारे वाली रानी चटर्जी अबले दू दर्जन से बेसी सुपरहिट फिल्म दिहले बाड़ी. रानी चटर्जी के हर वर्ग के दर्शक पसंद करेलें. रानी ‘गंगा मईया तोहे चुनरी चढ़इबो’, ‘छोटकी दुल्हन’, ‘मुन्नीबाई नौटंकीवाली’, ‘फूल बनल अंगार’, ‘दामिनी’, ‘दुर्गा’ जइसन महिला प्रधान फिलिमन से दर्शकन के दिल जीत लिहले बाड़ी, सिनेमा भोजपुरी के तकरीबन हर स्टार नायक का साथे रानी हिट फिलिम दिहले बाड़ी. कुछ नयको नायक वाला फिलिमो के रानी हिट करा दिहले बाड़ी. रानी के तुलना फिल्म इंडस्ट्री में हिन्दी सिनेमा के प्रतिभाशाली नायिका सभे जइसे कि रेखा, श्रीदेवी, स्मिता पाटिल आ विद्या बालन से कइल जाला आ रानी के बरोबरी के दरजा दिहल जाला.

पिछला नौ साल से सिनेमा भोजपुरी के रानी रहल रानी चटर्जी अपना सफलता के पूरा श्रेय दर्शकन से मिलल प्यार के देली. रानी कहेली कि उनुका ला नंबर गेम आ अवार्डो ले बढ़ के दर्शकन के प्यार बा.


(प्रशांत निशांत के रपट)

केकरा ला धड़कऽता रानी क दिल

कमालिस्तान स्टूडियो के गार्डेन में पिछला हफ्ता भोजपुरी फिलिमन के चर्चित अभिनेत्री रानी चटर्जी “धड्केला तोहरे नावे करेजवा” गुनगुनात नवोदित अभिनेता विजय वर्मा के आगा पीछा दउड़त रही. आजुकाल्हु ऊ विजय वर्मा का प्यार में पागल बाड़ी. स्टूडियो में शूटिंग के त बहाना रहे. ऊ विजय के अंकवारी में लेके प्रेमालाप करेला बेताब रहली. विजय वर्मा अपना से बहुते उमिरगर रानी से प्यार करे का पक्ष में नइखन आ रानी के देखते घबड़ा जालें आ बहुते असहज हो जालें आ रानी बाड़ी कि ….

जबसे ई फिलिम शुरू भइल बा रानी विजय के आपन दिल दे दिहले बाड़ी. ओह दिन जब विजय वर्मा उनुका पकड़ में अइलें त रानी अपना भावना के रोक ना पवली ताबड़तोड़ यूनिट क सोझ ही चुम्मा के बरसात कर दिहली. कोरिओग्राफर कानूओ मुखर्जी ई देख के हैरान रहलें काहे कि ई सीन शूटिंग क हिस्सा ना रहल.

दिनेश लाल यादव के निर्देशन में बनत एह फिल्म के निर्माण पूरा हो गइल बा आ एके जल्दिए रिलीज कइल जाई. विजय वर्मा के एही फिलिम से परदा पर उतारल जात बा. फिल्म में रानी चटर्जी उनकर नायिका बाड़ी.


(इरफ़ान मुम्बईवाला के रपट)

‘काहे कईलऽ हमसे घात’ रिलीज भइल

रीगल थिएटर का बैनर तले बनल भोजपुरी फिल्म ‘काहे कईलऽ हमसे घात’ पिछला हफ्ता बिहार के ३५ गो आ मुंबई के २५ गो सिनेमाघर में रिलीज भइल.

फिल्म के कहानी रानी चटर्जी से शुरु होखत बा जे गर्ल्स हॉस्टल में रहेली आ मारधाड़ में माहिर हई. अपना एह गुण का बदौलत ऊ गुण्डन से अझूरात रहेली. गुण्डा सब के ई गैंग भोली भाली लड़िकियन के फँसा के अश्लील वीडियो बना लेला आ बाद में ओकनी के शोषण करत रहेला. रानी एह गुण्डन से टकरात बाड़ी आ एह काम में राजन नाम के एगो लड़िका ओकर साथ देत बा, राजन के बहादुरी देख रानी ओकरा से प्यार करे लागत बाड़ि. बाकिर बाद में उनुका सदमा लागत बा जब पता चलत बा कि राजन ओह गुण्डन के सरदार के भाई हऽ. फेर त ओकरा राजन से नफरत हो जात बा. ओकरा बाद का होखत बा, इहे देखावल गइल बा एह फिलिम में.

एह फिलिम में रानी चटर्जी के अभिनय कमाल के बा आ उनुकर एक्शन सीन दर्शकन के आकर्षित करत बा. विराज भट्ट अपना भूमिका से पूरा न्याय कइले बाड़न आ खलनायक के रूप में राजप्रेमी के काम सराहे जोग बा.

निर्माता मुन्ना रिजवी, निर्देशक संगीत कुमार, संगीतकार राज सेन, गीतकार एस. कुमार, कैमरामैन रवि चंदन, नृत्यनिर्देशक एंथोनी, संवादलेखक मनोज के. कुशवाहा आ सह-निर्माता शिवा चौधरी अउर कमर कुरैशी हउवें. कलाकारन में रानी चटर्जी, विराज भट्ट, राज प्रेमी, बृजेश त्रिपाठी, सूर्या, सी.पी. भट्ट, मेहनाज, अयाज खान, के.के. गोस्वामी, राम मिश्रा, रानी खान, डा. अभय आशियाना प्रमुख भूमिका में बावे लोग. आयटम सांग पुर्णिला राय कइले बाड़ी.


(समरजीत के रपट)

रानी रिंकू के बीचे फसले रविकिशन

भोजपुरिया टाइगर रवि किशन एह घरी सिनेमा भोजपुरी के दू गो खुबसूरत बाला रानी चटर्जी आ रिंकू घोष का बीचे पिसात बाड़े. एक का साथे फेरा लिहलन त दोसरकी उनुका फेरा में बिया. ऊ रवि के प्यार में अतना पागल बिया कि हरहाल में उनुका के हासिल कइल चाहत बिया. दिलचस्प बात त ई बा कि दुनु सगी बहन हईं सँ.

आशिक आरिफ मूवी के बैनर के तले निर्माता आशिक मोहम्मद आ आरिफ हुसैन के दिलआवेज के फिल्म “साली बड़ी सतावेली” में रवि किशन जीजा आ रानी चटर्जी उनुकर साली बनल बाड़ी. रिंकू घोष रवि किशन के पत्नी का भूमिका में बाड़ी. फिल्मों में रवि किशन अभिनेता बनल बाड़े. रवि से प्यार करत बाड़ी रानी चटर्जी बाकिर शादी हो जात बा रिंकू घोष से. बस एहिजा से शुरू होत बा बीबी आ साली क बीच तालमेल बइठावे के रोमांचक खेल.

रवि किशन, रानी चटर्जी आ रिंकू घोष के अलावा एह फिल्म में फिरदौस खान, नौसाद खान, साहिल सन्नी, निरुपमा श्री, पुष्पा वर्मा, प्रिया पाण्डे मुख्य भूमिका में बाड़न. राजेश गुप्ता के संगीत आ फणीन्द्र राव के लिखल तेरह गो गीतन से सजल एह फिल्म में कैलास खेर, उदित नारायण, इंदु सोनाली, खुशबू जैन, मोहन राठोड, ममता राउत आ मनोज मिश्रा के आवाज़ बा. कहानी लिखल हवे आर. रंजन के आ पटकथा आ संवाद साहिल सन्नी के बा.

फिल्म के शूटिंग एही महीना शुरू होखत बा.

रविकिशन आ रिंकू घोष के जोड़ी एहसे पहिले हालिया रिलीज “केहू हमसे जीत ना पाई” आ औहसे पहिले “बिदाई”, “सुहागन बना द सजना हमार”, आ “बलिदान” में धमाल कर चुकल बा. आजु के दौर में रिंकू घोष अकेली नायिका बाड़ी से दू गो सफल धारावाहिक आ हिन्दीओ फिलिम कर चुकल बाड़ी.


(उदय भगत आ शशिकांत सिंह के रपट से जोड़ के)

होली के रंग रवि- रानी के संग

सिनेमा भोजपुरी खातिर एह साल के होली भोजपुरी के सदाबहार सुपर स्टार रवि किशन आ रानी चटर्जी का नामे रही काहे कि एह होली पर रिलीज होखत तीन गो फिलिमन में शामिल बाड़े या त रविकिशन ना त रानी चटर्जी.

पहिला फिल्म माँ विन्ध्वासिनी विजन प्रस्तुत निर्मात्री नेहा तिवारी आ लेखक निर्देशक संतोष मिश्रा के हऽ, “कईसन पियवा क चरित्तर बा”. एह फिलिम में रवि किशन आ रानी चटर्जी के जबरदस्त रोमांस बा. साथ में बाड़े मनोज पाण्डे, अंजना सिंह, शक्ति सिन्हा आ संजय पाण्डेय. एह फिलिम का बारे में कहात बा कि रवि रानी के जोड़ी के दर्शक देवरा बड़ा सतावेला फिलिमो से अधिका पसन्द करीहें. भोजपुरिया ट्रेड में हॉट केक बनल एह फिलिम के मुंबई आ बिहार में एक साथ रिलीज कइल जात बा.

दोसरकी फिलिम हवे “प्राण जाए पर वचन ना जाए”. के.डी. निर्देशित एह फिल्म में रवि किशन एगो मुस्लिम बाहुबली नवाब का भूमिका में बाड़न, एहमें उनुका अलावे राजीव दिनकर आ अक्षरा सिंह मुख्य भूमिका में बा लोग. एह फिलिम के एगो गाना “साढ़े तीन बजे मुन्नी जरूर आना” पहिलही से धूम मचा के रखले बा.

तिसरकी फिलिम रही बिहार के प्रसिद्ध वितरक, विधायक आ निर्माता डॉ. सुनील के फिल्म “दुर्गा”. एहु फिलिम के पूरा देश में एकेसाथ रिलीज कइल जात बा. एहमें रानी चटर्जी केंद्रीय भूमिका में बाड़ी. साथ में बाड़न विराज भट्ट आ अवधेश मिश्रा.

कुल मिला के कहल जा सकेला कि अबकी के होरी के रंग रविकिशन आ रानी चटर्जी के अभिनय का साथे होखी.


(उदय भगत के रपट से)

विजय वर्मा आ रानी चटर्जी के इश्क “धड़केला तोहरा नामे करेजवा ” मे

सिनेमा भोजपुरी के एगो परम्पराबन गइल बा कि गायक से अभिनेता बनल सितारन के लोग बहुते सफल बना देला. हालांकि गायक नाहियो रहल बहुते स्टार बाड़न जइसे कि सुपरस्टार रवि किशन, मनोज पांडे, धीरज पंडित, विक्रांत सिंह, मनोज द्विवेदी वगैरह. अब एगो अउरी गायक अभिनय का मैदान में उतरल बाड़े आ ऊ हउवन विजय वर्मा जिनकर नाम आजु काल्हु लोग का जुबान पर चढ़े लागल बा.

उत्तर प्रदेश के रहेवाला विजय वर्मा अपना फिल्मी पारी के शुरूआत कइलन दिनेश यादव निर्देशित आ आदिशक्ति एंटरटेनमेंट बॅनर के तहत बनत फिल्म “धड़के ला तोहरा नामे करेजवा ” से. एह पहिलके फिलिम में उनुका अभिनेत्री रानी चटर्जी का साथे नैन मटक्का करे आ इश्क करे के मौका मिल गइल.

एह फिल्म मे कलुवा नाम से मशहूर अरविंद अकेला पहिला बेर एगो दमदार रोल मे विजय वर्मा का साथे लउकीहें. ख़ूँख़ार खलनायक संजय पांडे के भूमिको अहम बा एहमें. बाकी कलाकारन में नीरज राज पॉडेल, उमेश सिंह, गोपाल राय, अयाज़ ख़ान, आनंद मोहन, रत्नेश बरनवाल आ आईटम क्वीन सीमा सिंह बाड़ी.


( अपना न्यूज के रपट से)